ईगरा गांव की सुनीता महिलाओं में स्वरोजगार की जगा रही है अलख

168

 

जींद, 8 मार्च 2019 (अनिल कुमार) – जिला जींद के गांव ईगरा की विवाहिता सुनीता ने नारी-शक्तिकरण में एक मिशाल पेश की है। सुनीता ने सोनीपत के मुरथल से ट्रेनिंग लेकर न केवल आत्मनिर्भर हुई है अपितु अन्य महिलाओं को को भी रोजगार देकर उन्हे आगे बढऩे के लिए प्रेरित कर रही है। सुनीता अपने घर में ही मशरूम उगा कर उसके उत्पाद तैयार कर बाजार में बिक्री कर अच्छी -खासी कमाई कर रही है। सुनीता ने एक विशेष भेंट में बताया कि उन्हें शुरू से ही लगन थी कि वह अपने पति के साथ कामधंधे में हाथ बँटाये। इसलिए उसने ठाना कि वह अपना स्वरोजगार करेगी। इसके लिए उन्होंने सोनीपत के मुरथल व बागवानी विभाग जींद से अचार एंव मुरब्बा बनाने कि ट्रेनिंग ली व जिला के गांव किनाना में एक लघु ईकाई स्थापित की और मशरूम से भुजिया, अचार, मुरब्बा ईत्यादि उत्पाद तैयार किए। उसने बताया कि मशरूम के उत्पाद अन्य उत्पादों कि अपेक्षा अत्याधिक पौष्टिक होते है। इसलिए मार्केट में इसकी डिमांड अधिक रहती है। उन्होंने बताया की वह महिलाओं को कहना चाहती है कि महिलाएं अब किसी भी क्षेत्र में पीछे नहीं है इसलिए वें स्वावलबीं होएं और अपने जीवन में आगे बढ़े।