मौका मिला तो केएमपी किनारे दौड़ाऊंगा रेल : वशिष्ठ कुमार गोयल

123

Vashist Kumar Goel

 

गुड़गांव, 13 अगस्त 2019 – नव जन चेतना मंच के संयोजक वशिष्ठ कुमार गोयल ने डोर टू डोर कार्यक्रम के दौरान लोगों से कहा कि तावडू और सोहना क्षेत्र का विकास तब ही संभव है। जब यहां पर इंफ्रास्ट्रक्चर मजबूत हो आवागमन की सुविधा हो। व्यापार करने के सभी साधन अच्छे हो। उन्होंने कहा कि जो जिले रेल कनेक्टिविटी से जुड़े हैं आज उन क्षेत्रों का विकास सबसे अधिक हो रहा है। कारण यह है कि भारत में आवागमन का सबसे मजबूत साधन रेल है। तावडू मेवात में पिछले 70 सालों में राज करते आ रहे नेता। सिर्फ पब्लिक के बीच आकर कभी रेल लाने की बात करके लोगों को गुमराह किया तो कभी यूनिवर्सिटी बनाने को लेकर। पिछली बार तो हद तब हो गई जब नेताओं ने तावडू को गुड़गांव में मिलाने के झूठे वादे करके वोट हथिया लिए। वशिष्ट कुमार गोयल ने कहा कि लोगों को जागरूक होना पड़ेगा। जुमलेबाज नेताओं से सावधान होना पड़ेगा नहीं तो हमारा क्षेत्र इसी तरह बिछड़ता चला जाएगा। उन्होंने वादा किया कि अगर क्षेत्र की जनता ने उन्हें इस बार मौका दिया तो उनका सबसे पहला काम केएमपी के किनारे रेल दौड़ाना रहेगा जिससे कि मेवात के लोग सीधे तौर पर हरियाणा यूपी मध्य प्रदेश और राजस्थान में आवागमन कर सकें। उन्होंने कहा कि केएमपी किनारे सरकार की इतनी जमीने बची है। जिससे आसानी से रेल की पटरी बिछाई जा सकती है और सरकार को किसानों की जमीनें भी अधिग्रहण नहीं करनी होगी। इस मौके पर वशिष्ट कुमार गोयल के साथ मंच के अध्यक्ष डॉक्टर सर्वदानंद आर्य, मीडिया प्रभारी विनोद नंबरदार, डॉक्टर संजय दायमा, राजेंद्र दायमा, लाल सिंह, मुकेश, ओमवीर गहलोत, हेमराज, पप्पू समेत सैकड़ों लोग मौजूद रहे।

 

 

Loading...