कोरोना वायरस की लम्बी लड़ाई में किसी को थकना नहीं : नवीन गोयल

184

naveen goyal

 

गुरुग्राम, 7 अप्रैल 2020। भारतीय जनता पार्टी के जिला सचिव नवीन गोयल ने कहा कि कोरोना वायरस से लड़ाई जीतनी इतनी आसान नहीं है, लेकिन इतनी मुश्किल भी नहीं कि जीती ना जा सके। इस लड़ाई को जीतने में कोई हथियार नहीं उठाने बल्कि एक-दूसरे से दूर रहना है। सोशल डिस्टेंस का पालन करें, ताकि इस बीमारी को खत्म किया जा सके। यहां ओल्ड दिल्ली रोड पर सेक्टर-12 में 170 झुगिगयों में मानव आवाज संस्था के साथ मिलकर उन्होंने राशन बांटा।

नवीन गोयल ने कहा कि एक-दूसरे का सहयोग करके ही हम कोरोना वायरस बीमारी से लड़ सकते हैं। शहर में समाजसेवियों ने बड़ा दिल दिखाते हुए जरूरतमंदों, वंचितों की सहायता की है। उन्होंने समाज में लोगों द्वारा फैलाए जा रहे भ्रम, झूठ पर लोगों से खासकर युवाओं से अनुरोध किया है कि वे सोशल मीडिया पर अच्छी बातों का प्रयास करें। कोरोना वायरस से बचाव को सोशल डिस्टेंस की बातें करें। जरूरतमंदों की सेवा को बातें सांझा करें। यह सब समाजहित, देशहित में होगा। इस संकट की घड़ी में अगर हम अपनी जिम्मेदारी नहीं समझेंगे तो हमारा भविष्य उज्जवल होने में बाधाएं आएंगी। नवीन गोयल ने युवाओं को उन लोगों से पे्ररणा लेने की बात कही, जो दिन-रात यहां लोगों की सेवा में लगे हैं। तन-मन-धन से लोगों की सेवा कर रहे हैं। अगर हम सेवा के इस मौके पर सेवा भी नहीं करना चाहते तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अनुरोध को मानकर घरों में बैठें। परिवार के साथ समय व्यतीत करें। यह भी एक तरह से समाज सेवा, देश सेवा ही है।

इस मौके पर मानव आवाज संस्था के संयोजक एडवोकेट अभय जैन, एडवोकेट कुलभूषण भारद्वाज, देवेंद्र जिंदल, प्रवीण अग्रवाल, सेक्टर-14 पुलिस थाना प्रभारी जसबीर ङ्क्षसह, एरिया मैजिस्टे्रट रामेश्वर दहिया, रविंद्र यादव आदि मौजूद रहे।

दवाओं के लिए ना हो परेशान, कैनविन से करें संपर्क

कैनविन संस्था के संस्थापक डीपी गोयल ने आमजन से अपील की है कि सभी लोग एक-दूसरे का साथ दें, सहयोग करें। उन्होंने कहा कि लॉकडाउन के दौरान किसी बीमार को दवाइयों को लेकर परेशान होने की जरूरत नहीं है। किसी परिवार के सदस्य को बाहर भेजने की जरूरत नहीं है। कैनविन संस्था से संपर्क करके घर बैठे ही 15 प्रतिशत डिस्काउंट पर दवाइयां मंगवा सकते हैं। उन्होंने कहा कि कैनविन संस्था द्वारा दवाइयों की सेवा करने के साथ जनसेवा के क्षेत्र में लोगों को भोजन व अन्य सामान आवंटित किया जा रहा है।