Posted on

जानिए क्या है BRICS और भारत के लिए क्या हैं इसके मायने ?

BRICS

BRICS

 

ब्राजील के शहर ब्रासिलिया में BRICS का 11वां सम्मेलन हो रहा है जिसमें हिस्सा लेने के लिए पीएम मोदी पहुंचे हैं। साल 2014 में पहली बार पीएम बनने के बाद पीएम मोदी छठी बार इस सम्मेलन में शामिल हो रहे हैं।

यह भारत के लिए BRICS देशों के दूसरे चक्र की शुरुआत है। भारत के लिए यह संगठन काफी महत्वपूर्ण है, क्योंकि यह विकासशील देशों की उभरती हुई आवाज बन चुका है।

ब्राजील, रूस, भारत, चीन और दक्ष‍िण अफ्रीका के संगठन को संयुक्त रूप से BRICS कहते हैं। इस संगठन की स्थापना साल 2006 में हुई थी। पहले इसका नाम BRIC था क्यों‍कि इसकी शुरुआत ब्राजील, रूस, भारत, चीन के साथ हुई थी, लेकिन बाद में इसमें दक्ष‍िण अफ्रीका को भी शामिल किया गया।

हर साल ब्रिक्स देशों का सालाना सम्मेलन होता है जिसमें इनके शीर्ष नेता शामिल होते हैं। पिछला यानी 10वां BRICS समिट 8 जनवरी, 2018 को दक्ष‍िण अफ्रीका में हुआ था।

अब 13 साल बाद BRICS एक ताकतवर संगठन बन चुका है और इसकी पांच अर्थव्यवस्थाओं की दुनिया की कुल जनसंख्या में 42 फीसदी, वैश्विक जीडीपी का 23 फीसदी और वैश्विक व्यापार का करीब 17 फीसदी हिस्सेदारी है।