जरनल ऑब्जर्वर रिचर्ड विंसेंट डिसूजा ने ली नोडल अधिकारियों की बैठक

51

D'Souza

 

गुरुग्राम, 8 अक्टूबर 2019 – भारत निर्वाचन आयोग द्वारा सोहना और पटौदी विधानसभा क्षेत्रों के लिए नियुक्त किए गए जरनल ऑब्ज़र्वर रिचर्ड विंसेंट डिसूजा ने आज गुरुग्राम के लोक निर्माण विश्राम गृह के कॉन्फ्रेंस हॉल में चुनाव से जुड़े विभिन्न कार्यों के लिए नियुक्त नोडल अधिकारियों के साथ बैठक की और उन्हें अपना दायित्व निष्ठा से निभाने के आदेश दिए।

श्री डिसूजा कर्नाटक कैडर के 2007 बैच के आईएएस अधिकारी हैं तथा निर्वाचन आयोग द्वारा अब हरियाणा में चौथी बार जनरल ऑब्जर्वर नियुक्त किए गए हैं। इससे पहले वे नागालैंड, अरुणाचल प्रदेश तथा छत्तीसगढ़ में हुए चुनावों में जरनल ऑब्जर्वर रह चुके हैं। उन्होंने मुख्य रूप से इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन के सुरक्षित रखरखाव, उनकी ट्रांसपोर्टेशन, वोटर स्लिप का वितरण, पोलिंग स्टाफ की ईवीएम पर ट्रेनिंग आदि पर बैठक में चर्चा की।

गुरुग्राम के चुनाव तहसीलदार संतलाल ने श्री डिसूजा को बताया कि जिला के गुडगाँव विधानसभा क्षेत्र में ही दो बैलट यूनिट लगेगी, बाकी तीनों विधानसभा क्षेत्र में एक-एक बैलेट यूनिट लगेगी। उन्होंने बताया कि गुड़गांव विधानसभा क्षेत्र में 16 प्रत्याशी चुनाव मैदान में हैं और इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन की एक बैलट यूनिट पर 16 उम्मीदवारों के ही नाम आ सकते हैं। उम्मीदवारों के अलावा एक नोटा का भी विकल्प मतदाताओं को दिया जाता है, इसलिए केवल नोटा के लिए एक बैलट यूनिट अलग से लगानी पड़ेगी। चुनाव तहसीलदार ने बताया कि 9 अक्टूबर को इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन की सप्लीमेंट्री रेंडमाइजेशन होगी। इसमें चुनाव आयोग की हिदायत के अनुसार प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में अब 15 प्रतिशत की बजाय 25 प्रतिशत ईवीएम रिजर्व रखी जाएंगी। इसके अलावा, गुरुग्राम जिला में पोलिंग बूथों की संख्या 1122 से बढ़कर 1172 हो गई है, इसलिए नए बनाए गए 50 ऑग्जिलरी बूथों के लिए भी ईवीएम रिटर्निंग अधिकारियों को दी जाएंगी। सप्लीमेंट्री रेंडमाइजेशन में इन्हीं इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों का आवंटन होगा। उन्होंने बताया कि चुनाव ड्यूटी पर लगाए जाने वाले अधिकारियों व कर्मचारियों को ईवीएम तथा वीवीपैट पर हैंड्स ऑन ट्रेनिंग दी जा रही है, ताकि वे चुनाव के दिन 21 अक्टूबर को मतदान सुचारू रूप से करवा सकें। श्री डिसूजा ने कहा कि कई बार अधिकारी व कर्मचारी ओवर कांफिडेंस में ट्रेनिंग में ध्यान नहीं देते और बाद में गलती करते हैं, इसलिए सभी को अनिवार्य रूप से ट्रेनिंग दिलवाए।

श्री डिसूजा ने मतदान के दिन के लिए ट्रांसपोर्ट प्लान बनाने के निर्देश देते हुए कहा कि पोलिंग पार्टियों को पोलिंग बूथों तक ले जाने वाले प्रत्येक वाहन का रूट प्लान बने और वाहन पर जीपीएस सिस्टम लगा हो। इस पर चुनाव तहसीलदार ने बताया कि मतदान के दिन के लिए प्राइवेट स्कूलों की बसें ली गई है जिन पर जीपीएस सिस्टम लगा है।

श्री डिसूजा ने मतदाताओं को वोटर स्लिप वितरण के बारे में भी पूछा। इस पर चुनाव तहसीलदार ने बताया कि मतदान से 5 दिन पहले सभी बूथ लेवल अधिकारियों (बी एल ओ) को वोटर स्लिप दे दी जाएंगी, जो घर-घर जाकर इनका वितरण करेंगे।

इस बैठक में उप आबकारी एवं कराधान आयुक्त एचसी दहिया, जिला राजस्व अधिकारी मनबीर सिंह, एन आई सी के डायरेक्टर एवं डीआईओ विभु कपूर, अतिरिक्त उपायुक्त कार्यालय से परियोजना अधिकारी रामेश्वर, सूचना एवं जनसंपर्क विभाग के उप निदेशक एवं जिला जन सूचना अधिकारी रणबीर सांगवान, जीएमडीए से सुमित, नगर निगम से रमन यादव सहित अन्य नोडल अधिकारी उपस्थित थे।

Loading...