शांति निकेतन पब्लिक स्कूल के प्रांगण में पूरे धूमधाम से मनाया गया स्वतंत्रता दिवस

309

school

 

गुरूग्राम, 16 अगस्त 2018 । शांति निकेतन पब्लिक स्कूल टेक चंद नगर, सेक्टर-104 के प्रांगण में स्वतंत्रता दिवस बड़ी धूमधाम व हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। इस अवसर पर स्कूली छात्र-छात्राओं द्वारा रंगारंग कार्यक्रम प्रस्तुत किया गया व देशभक्ति से ओतप्रोत कार्यक्रम प्रस्तुत किए गए। शांति निकेतन स्कूल की प्रबंध निदेशक श्रीमती उर्मिला देवी ने स्वतंत्रता दिवस पर राष्ट्रीय ध्वजारोहरण किया व परेड की सलामी ली। स्कूल के छात्र छात्राओं सहित उनके अभिभावकों ने भारी संख्या में भाग लिया और एक दूसरे को स्वतंत्रता दिवस की शुभकामनाएं दी। श्रीमति उर्मिला देवी ने इस अवसर पर कहा कि स्वतंत्रता दिवस मनाने के लिए जो हम आज यहां एकत्रित हुए हैं इसके पीछे हमारे न जाने कितने महान शहीदों और स्वतंत्रता सेनानियों की कुर्बानियां छुपी हुई है। भारत को आजाद करवानें के लिए ना जाने कितने ही महान सपूतो ने अपने प्राणों की आहुति दी है।

 

school

 

उन्होंने इस अवसर पर महान स्वतंत्रता सेनानी शहीद-ए-आजम सरदार भगत सिंह, चंद्रशेखर आजाद, सुभाष चंद्र बोस, खुदीराम बोस, लाला लाजपत राय को याद करते हुए उन्हें श्रद्धांजलि दी। उन्होंने कहा कि यदि भारत मां के सपूत इतनी बड़ी कुर्बानी नहीं देते तो आज हम खुली हवा में चैनो सुकुन की सांस नहीं ले पाते। उन्होंने कहा कि अब हमारे कंधों पर एक बहुत बड़ी जिम्मेवारी है क्योंकि हमने अपने पूर्वजों द्वारा दी गई आजादी को संभाल के रखने की जरूरत है और देश को आगे बढ़ाना है।

 

school

 

आज देश के अंदर ना जाने किस तरह का माहौल बनता जा रहा है और लोग और राजनीतिक पार्टियां अपने विषय से भटकते हुए जा रहे हैं और अपने निजी स्वार्थों के लिए देश के हित को दाव पर लगाने से भी नहीं चूक रहे। हमें ऐसे लोगों से सावधान रहना है और जो हमारे महान शहीदों ने अपने खून की होली खेलकर और अपना सर्वोच्च बलिदान देकर इस देश को आजाद कराया था, हमें उसे संभाल के रखना है और आगे बढ़ाना है । यही उन महान सच्चे सपूतों के प्रति हमारी श्रद्धांजलि होगी।

 

school

 

उन्होंने कहा कि कश्मीर समस्या, रोहिंग्या समस्या, क्षेत्रवाद ,भाई भतीजावाद, जातिवाद, आरक्षण जैसे बहुत से विषय हैं जिन्होंने देश को आगे बढ़ाने में बेड़िया लगाने का काम किया है लेकिन हमने अब अपनी सोच को बड़ा रखते हुए आगे बढ़ना है और भारतवर्ष को विश्व की एक महान शक्ति बनाना है जहां पर हमारा देश के लोग ही नहीं बल्कि विश्व भर के लोग भी भारत से प्रेरणा ले सकें जिस प्रकार पहले भारतवर्ष विश्व गुरु की भूमिका निभाता था अब आगे चलकर अब भी भारत में विश्व गुरु की भूमिका निभानी होगी, तभी हम अपने शहीदों को श्रद्धांजलि देने का अधिकार रख पाएंगे इस अवसर पर श्रीमती उर्मिला देवी ने आए हुए लोगों को मिठाइयां बांटी व स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक बधाई दी। इस अवसर पर स्कूल के प्रिंसिपल श्री उपेंद्र राठी, स्कूल के जरनल सैक्रेटरीश्री सुनील दहिया, आर एस दहिया वाइस प्रिंसिपल, श्रीमती सीमा गुलिया, परमानंद स्कूल मैनेजमेंट के सुरेंद्र मलिक तथा बहुत सारे गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे ।