प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना में छह लाख से अधिक पंजीकरण के साथ हरियाणा देश में प्रथम स्थान पर

74

Pradhan Mantri Shram Yogi Maandhan Yojana

 

गुरुग्राम, 1 नवंबर 2019 – श्रम विभाग की ओर से प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना (पीएमएसवाईएम) एवं राष्ट्रीय पेंशन योजना के तहत पेशन सप्ताह का आयोजन आज गुरुग्राम के स्वतंत्रता सेनानी जिला परिषद् हाॅल में किया गया, जिसका शुभारंभ हरियाणा श्रम आयुक्त नितिन यादव ने किया।

यह राष्ट्रीय पेंशन योजना सप्ताह 30 नवंबर से 6 दिसंबर तक चलेगा। पेंशन सप्ताह कार्यक्रम में जिला से लगभग 100 से अधिक श्रमिकों ने भाग लिया।

श्री यादव ने कहा कि हरियाणा में लगभग 75 प्रतिशत असंगठित क्षेत्र कार्यरत है, जोकि श्रमिकों का एक बड़ा हिस्सा है। उन्होंने कहा कि असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले व्यक्ति का भविष्य के लिए पहले कोई भी आय का साधन नहीं होता था, लेकिन फरवरी-2019 में प्रधानमंत्री द्वारा श्रमिकों के लिए पीएमएसवाईएम योजना शुरू की गई। इस योजना के अंतर्गत अब तक हरियाणा प्रदेश में छह लाख से अधिक पंजीकरण किये जा चुके है जो पूरे देश में सबसे अधिक है। पीएमएसवाईएम योजना के बारे में बताते हुए श्री यादव ने कहा कि इस योजना के अंतर्गत 18 वर्ष से 40 वर्ष की आयु के श्रमिक अपना पंजीकरण करा सकते हैं जिनकी मासिक आय ₹15000 से कम है, साथ ही असंगठित क्षेत्र जैसे निर्माण कार्य में लगे श्रमिक, मोची, रेड़ी वाले या छोटे दुकानदार आदि स्कीम का लाभ उठा सकते हैं, जिनकी मासिक आय में ईएसआईसी वह ईपीएफ शामिल ना हो। उन्होंने बताया कि पीएमएसवाईएम योजना के पंजीकरण के लिए श्रमिक अपने नजदीकी अटल सेवा केंद्र पर जा सकते हैं और बड़े ही आसान तरीके से सिर्फ 2 दस्तावेजों के साथ अपना पंजीकरण करवा सकते हैं जिनमें आधार कार्ड की कॉपी तथा बैंक बचत खाता की पासबुक की कॉपी शामिल है या फिर कैंसिल चेक लेकर भी वह अपना पंजीकरण करवा सकते हैं ।

Pradhan Mantri Shram Yogi Maandhan Yojana

 

उन्होंने बताया कि यह योजना पूर्ण रूप से ऐच्छिक है। अंशदान की राशि श्रमिक की आयु के आधार पर निर्धारित की जाएगी। उदाहरण देते हुए उन्होंने बताया कि यदि श्रमिक की आयु 18 वर्ष है तो उसे मात्र 55 रुपए महीना जमा करवाने होंगे तथा 40 वर्ष आयु के श्रमिक को मात्र 200 रुपए महीना जमा करवाने होंगे। यह राशि उसे 60 वर्ष की आयु की प्राप्ति तक जमा करवानी होगी तथा 60 वर्ष की आयु पूरी होने पर 3000 रुपये मासिक पेंशन की तरह उन्हें मिलेगी। उन्होंने बताया कि अटल सेवा केंद्र सीएससीसी संचालक पोर्टल से पात्र श्रमिक का जब पंजीकरण करेगा तो उसकी उम्र के हिसाब से देय राशि की मासिक किस्त अपने आप पता लग जाएगी। पंजीकरण करवाने के बाद संचालक पात्र व्यक्ति की पूर्ण प्रक्रिया करके उसको पेंशन अकाउंट नंबर देगा तथा अंत में संचालक उसे पीएमएसवाईएम कार्ड प्रिंट करके देगा उन्होंने सभी श्रमिकों से कहा कि इस योजना से जुड़ना बड़ा ही सरल है तथा इसके माध्यम से वह अपने भविष्य को सुरक्षित बना सकते है।

श्री नितिन यादव ने राष्ट्रीय पेंशन योजना के बारे में बताते हुए कहा कि राष्ट्रीय पेंशन योजना से 18 वर्ष से 40 वर्ष का व्यक्ति जुड़ सकता है। यह योजना स्वरोजगार व लघु व्यापारियों के लिए है जो कि आयकर दाता ना हो तथा जिसका ईएसआई व पीएफ भी न कटता हो। उन्होंने कहा कि पेंशन की योजना द्वारा वृद्धावस्‍था के दौरान उस समय वित्तीय सुरक्षा और स्‍थायित्‍व दिया जाता है, जब लोगों के पास आय का कोई नियमित स्रोत नहीं होता है।

इस मौके पर उपस्थित अतिरिक्त श्रम आयुक्त एनसीआर आरके सिंह ने कहा कि श्रम विभाग द्वारा प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन पेंशन योजना के तहत 6 दिसंबर तक पेंशन सप्ताह का आयोजन किया गया है। इस सप्ताह के दौरान जिला में विभिन्न स्थानों पर काम करने वाले श्रमिकों के पंजीकरण का कार्य किया जाएगा। उन्होंने कहा कि सभी श्रमिक इस योजना के बारे में एक दूसरे को बताएं। जिससे वे समय रहते अपना रजिस्ट्रैशन करवा लें। उन्होंने कहा कि सरकारी विभागों में आशावर्कर, आंगनवाड़ी वर्कर, पंचायत विभाग के कर्मचारी, नगर निगम, श्रम विभाग सहित अन्य विभागों में पात्र कर्मचारी है जिन्हें इस योजना का लाभ मिलना चाहिए।उन्होंने सभी श्रमिकों से कहा कि वह किसी भी अटल सेवा केंद्र पर जाकर अपना पंजीकरण करवा सकते हैं। उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री की मनरेगा योजना से भी डाटा लिया जाएगा तथा उसे पूर्ण रूप से वेरीफाई किया जाएगा जिससे अधिक से अधिक श्रमिक योजना से जुड़ सकें ।

उन्होंने बताया कि इस योजना में सभी आशा वर्कर, आंगनवाड़ी वर्कर, किसान, कंस्ट्रक्शन वर्कर, डोमेस्टिक वर्कर को भी जोड़ा जाएगा। उन्होंने कहा कि कोई भी श्रमिक इस योजना से वंचित ना रहे इसके लिए सब एक दूसरे को इस योजना के प्रति जागरूक करें। उन्होंने बताया कि इस योजना के प्रचार-प्रसार हेतु पूरे गुड़गांव तथा हर जिला में बड़े-बड़े बैनर होर्डिंग लगाई जाएंगी जिससे अधिक से अधिक लोग इस योजना के तहत जागरूक हो सकें । आज आयोजित पेंशन सप्ताह में मोके पर ही श्रमिकों का पंजीकरण करवाया गया तथा उन्हें इस योजना के बारे में विस्तार से बताया गया। मुख्यथिति द्वारा सभी पंजीकृत श्रमिकों को प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना के कार्ड वितरित किये गए। आज आयोजित इस सप्ताह में मुख्यातिथि हरियाणा श्रम आयुक्त नितिन यादव के साथ अतिरिक्त श्रम आयुक्त आर के सिंह, जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी वत्सल वशिष्ठ, जिला इंफॉर्मेटिक्स अधिकारी विभू कपूर, जिला मैनेजर सीएससी दीपक सेहरावत सहित कई अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

Loading...