केन्द्र को भी लुभाई एक और सुधार की स्कीम, कृषि व पराली के लिए दिल्ली में किसानों की होगी मीटिंग

143

agriculture

 

दिल्ली, 15 नवंबर 2019 – एक और सुधार प्रोजेक्ट का असर हरियाणा में तो नजर आ ही रहा है, लेकिन अब केन्द्र सरकार ने भी एक और सुधार को अख्तियार करना शुरु कर दिया है। केन्द्रीय कृषि मंत्रालय ने इसके लिए सीधे तौर पर हरियाणा एक और सुधार को ही केन्द्र में भी काम करने की इच्छा जाहिर की है।

एक और सुधार के प्रोजेक्ट डायरेक्टर रॉकी मित्तल ने बताया कि देश के कृषि राज्य मंत्री पुरुषोत्तम रुपाला से हुई मुलाकात में यह तय हुआ है कि एक और सुधार के तरीकों को केन्द्र में भी शुमार किया जाएगा और हमारी टीम को केन्द्र में भी काम करने का अवसर दिया जाएगा। यह हरियाणा और हम सब के लिए गर्व की बात है।

आप को बता दें कि एक और सुधार मुख्यमंत्री मनोहर लाल का ड्रीम प्रोजेक्ट है। हरियाणा में दुर्गा शक्ति, महिला थाने, अन्त्योदय भवन एक और सुधार की रिपोर्ट के बाद ही बनाए गए हैं। इसके अलावा एक और सुधार ने महिला सुरक्षा, साफ सफाई, पेयजल और स्कूली बच्चियों से हो रही छेड़छाड़ के खिलाफ अभियान चलाया। मुख्यमंत्री मनोहर लाल की सीधी देखरेख में चलने वाला एक और सुधार वर्तमान में पूरे हरियाणा नशे पर लगाम लगाने के लिए पूरी प्लानिंग के साथ काम कर रहा है।

एक और सुधार के प्रोजेक्ट डायरेक्टर रॉकी मित्तल ने इस खबर की पुष्टि करते हुए कहा कि कि देश के कृषि राज्य मंत्री पुरुषोत्तम रुपाला ने इच्छा जाहिर की है कि देश में कृषि की समस्या और विशेष तौर पर पराली जलाने की समस्या का पूर्ण तौर पर निस्तारण के लिए क्या नए प्रयास किए जाए इसके लिए एक और सधार कार्य करें।

रॉकी मित्तल ने कहा कि इन दोनों मसलों के लिए उनकी टीम ने काम करना शुरु कर दिया है। यह तय हुआ है कि कृषि मंत्री पुरुषोत्तम रुपाला दिसंबर महीने में हरियाणा के अलग अलग जिलों के किसानों से मुलाकात कर कृषि क्षेत्र में आ रही समस्याओं को सुनेंगे और उसके निवारण के लिए त्वरित भी उपाय पूर्ण तौर पर लागू किए जाएंगे। रॉकी मित्तल ने बताया कि इसके अलावा हमारा प्रयास रहेगा कि पराली को जलाने की समस्या को जड़ से खुत्म करने के लिए भी प्रबल उपाय कृषि मंत्री के समक्ष रखें जाएं।

यह प्रदूषण के बढ़ते हुए स्तर को देखते हुए यह बहुत आवश्यक है कि किसानों और सरकार को मिलकर कोई ऐसी योजना लागू करनी चाहिए ताकि पराली भी ना जले और किसानों की समस्याओं को भी हल निकल आए। रॉकी मित्तल का कहना है कि मोदी सरकार वास्तव में किसानों के हित में कुछ अहम फैसले लेना चाहती है ताकि ना सिर्फ हमारे देश का किसान समृद्ध हो बल्कि देश के विकास को भी एक रफ्तार मिले।