रक्षाबंधन के पावन उपलक्ष्य में हुआ भगिनी सम्मान समारोह, बहन-बेटियों की सुरक्षा का लिया संकल्प

201

Rakshabandhan

 

गुरुग्राम, 11 अगस्त 2019 – हरियाणा का इस जग में करां सब तै ऊंचा नाम रै, बाहण-बेटियां की करां सुरक्षा यो गीता का धाम रै। गीतकार प्रवीण डूंगरवासिया की इन पंक्तियों को चरितार्थ कर गुरुग्राम के रहवासियों ने बहन-बेटियों की सुरक्षा का संकल्प लिया। साथ ही मेरी आन-महिलाओं का सम्मान को भी आत्मसात किया। मौका था बसई चौक स्थित भगवान परशुराम वाटिका में भाजपा के वरिष्ठ नेता एवं हरियाणा डेयरी विकास सहकारी प्रसंघ के चेयरमैन जीएल शर्मा की ओर से भगिनी (बहन) सम्मान समारोह का। सैंकड़ों लोगों ने बहन-बेटियों की सुरक्षा का संकल्प लिया।

 

Rakshabandhan

 

समारोह में हरि आम-ओ खास ने जीएल शर्मा की ओर से आयोजित कार्यक्रम की मुक्तकंठ से प्रशंसा की। कार्यक्रम की अतिथि डॉ. इंदू राव ने कहा कि कि आज बहन-बेटियों की सुरक्षा सबसे जरूरी है। कार्यक्रम के माध्यम से जीएल शर्मा ने समाज को एक संदेश देने का प्रयास किया है। जो अपने आप में एक मिसाल है। उन्होंने कहा कि हर किसी को बहन-बेटियों की सुरक्षा की जिम्मेदारी उठानी होगी। यह काम केवल कानून या सरकार का नहीं, बल्कि समाज के हर शख्स का है। जब समाज का हर व्यक्ति इसे अपनी जिम्मेदारी समझेगा तभी बेटी बचाओ का नारा सार्थक हो पाएगा। उन्होंने कहा कि सरकार के प्रयासों से प्रदेश में लिंगानुपात में व्यापक सुधार हुआ है। आज सरकार की बेटी बचाओ मुहिम का असर है कि प्रदेश में प्रति एक हजार लडक़ों पर 934 लड़कियां हो गई हैं।

 

Rakshabandhan

 

कार्यक्रम में अतिथियों के साथ जीएल शर्मा व आए हुए लोगों ने रक्षासूत्र बंधवाकर बहनों से रक्षा का वचन लिया। जीएल शर्मा की ओर से रक्षासूत्र के शगुन के तौर पर प्रधानमंत्री बीमा सुरक्षा योजना के तहत एक साल तक का दो लाख रुपये का बीमा मुफ्त कराकर दिया गया। जीएल शर्मा ने कहा कि बहन-बेटियों के साथ आए दिन हो रही घटनाएं हर किसी को झंझोर रही है। आज महिलाओं को सम्मान और सुरक्षा की जरूरत है। अपनी बहन-बेटी को सब सम्मान की नजर से देखते हैं, लेकिन पराई बहन-बेटी को अपनी समझना समाज की मुख्यधारा से दूर होता जा रहा है। इस परिपाटी को बदलना होगा। इसी बदलाव के लिए यह कार्यक्रम आयोजित किया गया है।

 

Rakshabandhan

 

समाज, खासकर युवा पीढ़ी को नई दिशा देने के उद्देश्य से यह नई पहल की जा रही है। उन्होंने कहा कि समाज और मानव सेवा अपनी जगह है और राजनीति अपनी। उनका मकसद हमेशा राजनीति को समाज और मानव सेवा के रूप में करने का रहता है। समारोह में विशेष आमंत्रित अतिथि भाजपा के जिला महामंत्री मनोज शर्मा, सचिव परिक्षित भारद्वाज ने भी अपने विचार रखे। कार्यक्रम का आगाज दीप प्रज्वलन से हुआ। तत्पश्चात वंदना जोशी, विजया गौड़, संतोष कुमारी, निधि पांडे, नेहा वर्मा ने मां सरस्वती की स्तुति की। पलवल से आए हरियाणवीं लोकगायक सुंदर पांचाल ने देशभक्ति और धार्मिक गीतों से कार्यक्रम में समां बांध दिया।

 

Rakshabandhan

 

इस मौके पर पूर्व पार्षद सुनीता सहरावत, शीतला मंडलाध्यक्ष सीताराम सिंघल, आदर्श ब्राह्मण सभा के संयोजक योगेश कौशिक, दयानंद मंडल के महामंत्री अजीत भारद्वाज, सुखबीर कटारिया, गजेंद्र अग्रवाल, सुखबीर कटारिया, मांगेराम सैनी, भारत भूषण सैनी, महिपाल सहारण, विजया गौड़, संतोष कौशिक, असरफी लाल गुप्ता, राहुल गुर्जर, पीडी भारद्वाज, जयकिशन शर्मा सिलोखरा, गीता शर्मा, राजकुमार शर्मा, संतोष कुमारी, नेहा शर्मा, उमारानी चौहान, नरोत्तम वत्स, राजेश दता, पूर्वांचल प्रकोष्ठ के अध्यक्ष धमेंद्र मिश्रा, प्रेमराज वत्स, प्रतीक शर्मा, भाजपा महिला मोर्चा जिला उपाध्यक्ष वंदना जोशी, संतोष कुमारी, प्रियंका, यशोदा, शंकुतला, सरस्वती मंडलाध्यक्ष निलिमा मिश्रा, अनु कौशिक, नेहा वर्मा सहित बड़ी संख्या में कार्यकर्ता उपस्थित थे।

Loading...