बार एसोसिएशन गुरुग्राम व वसीका नवीस एसोसिएशन ने दिया अश्वनी शर्मा को पूर्ण समर्थन

138

 

गुरुग्राम, 15 अक्टूबर 2019 : वरिष्ठ समाजसेवी, निगम पार्षद एवं गुरुग्राम विधानसभा क्षेत्र से प्रबल निर्दलीय उम्मीदवार अश्वनी शर्मा ने जनसंपर्क अभियान में अपनी पूरी ताकत झोंक दी है। मंगलवार को उन्होंने शहर के दर्जनभर इलाकों में जनता से संपर्क स्थापित कर सहयोग और समर्थन का आग्रह किया। जिला एवं सत्र न्यायालय गुरुग्राम में पहुंचने पर बार एसोसिएशन गुरुग्राम और वसीका नवीस एसोसिएशन गुरुग्राम ने कोर्ट परिसर में अश्वनी शर्मा का अभूतपूर्व स्वागत करने के साथ पूर्ण समर्थन दिया। अधिवक्ताओं से समर्थन का विनम्र निवेदन करते हुए अश्वनी शर्मा ने कहा कि अधिवक्ता समाज एक प्रबुद्ध समाज है और हमेशा से मार्गदर्शक की भूमिका में रहा है।

आज हमें खुशी है कि गुरुग्राम के विकास को एक नया आयाम देने के लिए अधिवक्ता समाज ने हमें समर्थन देने के साथ उत्साहित किया। इसके लिए मैं समाज के लोगों का ऋणी रहूंगा। उन्होंने वसीका समाज के लोगों को भी समर्थन के लिए तहे दिल से शुक्रिया किया। इसके अलावा अन्य क्षेत्रों में जनता से संवाद स्थापित करते हुए अश्वनी शर्मा ने कहा कि गुरुग्राम जैसे महानगर की दूरदर्शिता और संसाधनों की आवश्यकता को देखते हुए यहां एक कुशल और सक्षम नेतृत्व की जरुरत है जो समर्पित होकर क्षेत्र के विकास और जनता की समस्याओं का समाधान करने के लिए काम कर सके। उन्होंने कहा कि कुशल नेतृत्व ना होने के कारण ही विश्व पटल पर रहने के बावजूद गुरुग्राम के नागरिक आज मूलभूत सुविधाओं के घोर अभाव से जूझ रहे हैं। शहर में सड़कों की खराब हालत के कारण नागरिकों को आवागमन में घोर कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है।

यह समस्या पिछले एक दशक से बरकरार है। इसके अलावा शहर की अधिकतर पेयजल और सीवर लाइनें करीब 3 दशक पुरानी हो चुकी हैं और आज की जनसंख्या के मुकाबले क्षमता में भी काफी कम है। इसके कारण एक दशक से पानी और सीवर की समस्या भी शहर में चरम पर है। उन्होंने कहा कि स्थानीय विधायक की लापरवाही से कई अनधिकृत कालोनियां अब तक अधिकृत नहीं हो पाईं। बिल्डर इलाकों को पूर्णतः नगर निगम में शामिल नहीं किया गया और इसके कारण इन क्षेत्रों के लाखों नागरिक मूलभूत सुविधाओं के बिना बदहाली का जीवन व्यतीत कर रहे हैं। अश्वनी शर्मा ने लोगों से निवेदन किया की गुरुग्राम के विकास का मार्ग प्रशस्त करने के लिए हमें समर्थन करें और आगामी 21 अक्टूबर को चुनाव चिन्ह ट्रैक्टर चलाते किसान के सामने का बटन दबाकर परिवर्तन का संकल्प पूरा करें।